19-Jun-2019

 राजकाज न्यूज़ अब आपके मोबाइल फोन पर भी.    डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें

मध्‍य प्रदेश: विधायकों से मिले सीएम कमलनाथ, जल्‍द हो सकता है कैबिनेट विस्‍तार

भोपाल: लोकसभा चुनाव के एग्जिट पोल (Exit Poll) के बाद मध्य प्रदेश की सियासत गरमा गई है. विपक्ष ने राज्यपाल को चिट्ठी लिखकर विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग की है. तो वहीं कमलनाथ (Kamal Nath) ने फ्लोर टेस्ट में बहुमत का दावा किया है. सीएम कमलनाथ (Kamal Nath) ने कहा कि उन्हें अपने विधायकों पर पूरा भरोसा है, वैसे इसे परखने मंगलवार को भोपाल में कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई गई, उम्मीदवारों को भी न्यौता भेजा गया था. भोपाल में कांग्रेस दफ्तर पर सुबह से ही माहौल गरमाया रहा. मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) ने लोकसभा प्रत्याशियों की बैठक लेकर उनसे चुनाव का फीडबैक लिया और साथ ही 23 को होने वाली मतगणना की तैयारियों का हाल जाना. इस बैठक के बाद कमलनाथ (Kamal Nath) ने कांग्रेस के विधायकों और मंत्रियों को भी दफ्तर बुलाया और चर्चा की.

कांग्रेस सरकार की अस्थिरता पर उठ रहे सवालों को बैठक के बाद कमलनाथ ने नकारा और दावा किया कि सरकार पर कोई खतरा नहीं है, मुझे कांग्रेस के विधायकों पर पूरा विश्वास है, मुझे कम से कम 10 विधायकों ने कहा हमें फोन आ रहे हैं ऐसे प्रलोभन दे रहे हैं. इस कवायद की वजह हैं ये आंकड़े, 230 विधायकों के सदन में कांग्रेस के 113 विधायक हैं जो बहुमत से तीन कम हैं. हालांकि चार निर्दलीय और दो बीएसपी और एक एसपी विधायक का समर्थन कांग्रेस के पास है. यानी कुल 120. बीजेपी के पास 109 विधायक हैं. हालांकि कई मंत्रियों का दावा है कि खरीद फरोख्त की कोशिश हो रही है. वैसे पार्टी मानती है कि एग्जिट पोल गलत साबित होंगे और बीजेपी विधायक कांग्रेस के पाले में आएंगे.

कानून मंत्री पीसी शर्मा ने कहा, '23 को बीजेपी को बहुमत नहीं आएगा, 20-25 बीजेपी के विधायक सरक के इधर आएंगे जो हमारे संपर्क में हैं, खरीद फरोख्त तीन बार किया, कभी सफल नहीं हुए, इनके पास अरबों हैं कुछ भी कर सकते हैं.' सरकार को मजबूती देने अगले कुछ दिनों में मंत्रिमंडल विस्तार की भी योजना है. निर्दलीय विधायक सुरेन्द्र सिंह शेरा भैया ने कहा, 'होना ही चाहिये, मुझे विश्वास है कमलनाथ जी पर, कांग्रेस पर, मंत्री बनाया जाएगा तो ज़रूर बनूंगा.'

उधर जानकारों का कहना है कि सिर्फ नेता प्रतिपक्ष के पत्र लिखने से सदन नहीं बुलाया जायेगा और जब सदन चलेगा तब कांग्रेस मत परीक्षण से पीछे नहीं हटेगी. वहीं बीजेपी को लगता है सरकार अपने अंतर्विरोध से गिर जाएगी. बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा, 'सरकार 23 मई को परिणाम आने को बाद अंतर्विरोध से गिरेगी, हम नहीं गिराने वाले इनकी कुर्सी के पाये हिलने वाले हैं स्वंय ये गिरने वाले हैं.'

साभार- एनडीटीवी खबर

Previous
Next

© 2015 Rajkaaj News, All Rights Reserved || Developed by Workholics Info Corp


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /srv/users/serverpilot/apps/rajkaaj/public/news/footer1.php on line 120
Total Visiter:0

Todays Visiter:0