19-Jun-2019

 राजकाज न्यूज़ अब आपके मोबाइल फोन पर भी.    डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें

लोकसभा चुनाव 2019: भोपाल एवं इंदौर के परिणाम आएगें सबसे आखिरी में

Previous
Next

 प्रदेश में 23 मई को प्रात: 8 बजे से होगी लोकसभा चुनाव की मतगणना प्रारंभ
 
भोपाल : 21, 2019, लोकसभा निर्वाचन-2019 की मतगणना 23 मई को प्रात: 8 बजे से सभी 51 जिला मुख्यालयों में स्थित मतगणना केन्दों पर प्रारंभ होगी। शान्तिपूर्वक एवं पारदर्शी तरीके से मतगणना सम्पन्न कराने के लिये जिलों में सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर ली गई है। अधिकांश लोकसभा क्षेत्रों के नतीजों की घोषणा अगले दिन यानी शुक्रवार 24 मई को हो पाएगी। भोपाल-इंदौर लोकसभा सीट के नतीजे भी 24 मई को ही आएंगे। पहला परिणाम गुरुवार को 23 मई को रात दस बजे के बाद आ सकता है। सबसे पहले मतगणना का काम कटनी जिले में पूरा होगा। यहां टेबल की संख्या सर्वाधिक 21 रखी गई है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने बताया कि इस बार चुनाव नतीजे घोषित होने में समय लग सकता है। प्रत्याशियों की संख्या, गिनती के चक्र की अधिकता सहित अन्य वजहों से परिणाम आने में समय लगेगा। सबसे पहले कटनी जिले में मतगणना का काम पूरा होगा। आयोग के निर्देशों के अंतर्गत जिस मतगणना कक्ष में डाक मतपत्रों की गणना होगी, वहाँ पर ईव्हीएम में दर्ज मतों की गणना डाक मतपत्रों की गणना प्रारंभ होने के 30 मिनिट बाद प्रारंभ की जायेगी। शेष मतगणना कक्षों में ईव्हीएम की मतगणना निर्धारित समय सुबह 8 बजे से प्रारंभ होगी।

पोस्टल बैलेट की गणना रिटर्निंग ऑफिसर मुख्यालय के 29 मतगणना स्थलों पर की जायेगी। पृथक से नियुक्त सहायक रिटर्निंग ऑफिसर पोस्टल बैलेट की गणना करेंगे। सभी ईव्हीएम की मतगणना पूर्ण होने के उपरान्त प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के 5 व्हीव्हीपैट को रैण्डम पद्धतिसे चुना जाकर उनकी पर्चियों की गणना की जायेगी। इन पाँच व्हीव्हीपैट की पर्चियों की गणना क्रमबद्ध तरीके से (एक के बाद एक) की जायेगी।

प्रदेश में मतगणना के लिये 9 हजार सुरक्षा कर्मी तैनात

लोकसभा निर्वाचन-2019 में मतगणना स्थल पर त्रि-चक्रीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है। सुरक्षा व्यवस्था के लिये समस्त मतगणना स्थल पर कुल 9 हजार सुरक्षा कर्मी तैनात किये गये हैं। मतगणना स्थल पर आने वाले कर्मचारियों, मतगणना अभिकर्ताओं एवं मतगणना से संबंधित अन्य व्यवस्थाओं के लिये नियुक्त किये गये सभी व्यक्तियों को जॉंच के बाद ही मतगणना स्थल में प्रवेश दिया जायेगा।

मतगणना परिसर, स्ट्रांग रूम से मतगणना कक्ष तक ईव्हीएम मशीन के लाने-ले जाने वाले मार्ग एवं मतगणना कक्ष में कुल 1800 सीसीटीव्ही कैमरे लगाये गये हैं। इनमें 3 कैमरे मतगणना कक्ष में, न्यूनतम 10 कैमरे मशीन के परिवहन मार्ग में एवं 5 कैमरे मतगणना स्थल परिसर की निगरानी के लिये लगाये गये हैं। ये कैमरे वायर द्वारा कंट्रोल रूम से कनेक्ट होंगे। मतगणना की वेबकास्टिंग नहीं की जायेगी। मतगणना स्थल पर wi-fi का भी प्रयोग नहीं किया जायेगा।

प्रदेश में 311 कक्ष में होगी मतगणना

मुख्‍य निर्वाचन प‍दाधिकारी श्री व्‍ही.एल. कान्‍ता राव ने बताया है कि लोकसभा निर्वाचन-2019 में 51 जिला मुख्‍यालय पर बनाये गये 51 मतगणना स्‍थलों पर कुल 292 मतगणना कक्षों में मतगणना होगी।  मतगणना स्‍थलों पर अधिक डाक मतपत्र होने के कारण उनकी गणना के लिये आयोग से अनुमोदन के बाद अलग से 19 कक्ष बनाये गये हैं।

ईव्‍हीएम मतों की मतगणना के लिये प्रदेश में कुल 292 कक्ष बनाये गये हैं। इनमें से 124 कक्ष में 7 टेबल, 164 कक्ष में 14 टेबल एवं 4 कक्ष में 21 टेबल (कटनी जिले में) लगाई गई हैं। पोस्‍टल बैलेट की गणना के लिये बनाये 19 मतगणना कक्ष सहित कुल 311 कक्षों में कुल 3 हजार 409 टेबल लगाई गई हैं।

 मतगणना के लिये 15 हजार कर्मचारी तैनात
 
लोकसभा निर्वाचन-2019 में 23 मई,2019 को सुबह 8 बजे से आयोग द्वारा अनुमोदित मतगणना स्‍थलों में मतगणना प्रारंभ होगी। मतगणना के लिये 913 सहायक रिटर्निंग ऑफिसर बनाये गये हैं।

प्रत्‍येक मतगणना टेबिल पर एक मतगणना सुपरवाईजर, एक मतगणना सहायक, एक माईक्रो आब्‍जर्वर एवं एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नियुक्‍त किया गया है। मतगणना कार्य के लिये कुल 15 हजार कर्मचारी नियुक्‍त किये गये हैं।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी की राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री व्ही.एल. कान्ता राव ने सभी मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के साथ बैठक की। बैठक में राजनैतिक दलों को मतदान के बाद अभ्यर्थियों से आयोग की अपेक्षाओं की जानकारी दी गयी। श्री राव ने ईव्हीएम/व्हीव्हीपैट के लिये बनाये स्ट्राँग रूम और मतगणना के लिये जिलों में की गयी व्यवस्थाओं के संबंध में सभी दलों को अवगत करवाया।

बैठक में अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री संदीप यादव, श्री अरूण कुमार तोमर, संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री अभिजीत अग्रवाल,  श्री राजेश कौल और मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

 वोटर हेल्प लाइन मोबाइल एप से ले सकेंगे मतगणना की जानकारी
 
भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लोकसभा निर्वाचन-2019 की मतगणना के प्रत्येक चरण के परिणामों  की जानकारी के लिये 'वोटर हेल्प लाइन' मोबाइल एप तैयार किया गया है। इसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। साथ ही भारत निर्वाचन आयोग के सुविधा पोर्टल पर भी मतगणना की जानकारी दर्ज की जायेगी। इसके अतिरिक्त भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाइट www.result.eci.gov.in/" से भी परिणाम की जानकारी प्राप्त की जा सकेगी। प्रत्येक मतगणना कक्ष में लगाये गये बोर्ड पर भी परिणामों की जानकारी अंकित की जायेगी।

मतगणना स्‍थल पर मीडिया कक्ष

लोकसभा निर्वाचन-2019 में मतगणना स्‍थल पर मीडिया कर्मियों के लिये मीडिया कक्ष बनाया गया है, जहॉं उन्‍हें चक्रवार (राउण्ड वाइज) परिणामों से अवगत करवाया जायेगा। मीडिया कक्ष में इंटरनेट, टेलीफोन आदि की व्‍यवस्‍था रहेगी।

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी प्रवेश-पत्र प्राप्‍त मीडिया कर्मी ही मतगणना स्थल पर प्रवेश कर सकेंगे। मीडियाकर्मियों को छोटे-छोटे ग्रुप में मतगणना कक्षों का भ्रमण कराया जायेगा। मतगणना कक्ष में केवल कैमरा ले जाने की अनुमति होगी।

Previous
Next

© 2015 Rajkaaj News, All Rights Reserved || Developed by Workholics Info Corp


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /srv/users/serverpilot/apps/rajkaaj/public/news/footer1.php on line 120
Total Visiter:0

Todays Visiter:0