23-Sep-2019

 राजकाज न्यूज़ अब आपके मोबाइल फोन पर भी.    डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें

बाहुबली अनंत सिंह का साम्राज्य हिलाने वाली कौन है यह महिला आईपीएस...

Previous
Next

पटना, 22 अगस्त 2019, बाहुबली नेता और मोकामा से निर्दलीय विधायक अनंत सिंह के साम्राज्य को हिला देने वाली युवा आईपीएस अधिकारी और पटना के बाढ़ अनुमंडल की एडिशनल एसपी लिपि सिंह आजकल खूब चर्चा में है. लिपि सिंह की अब तक पहचान यही रही थी कि वह जदयू के वरिष्ठ नेता और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बेहद करीबी और राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह की बेटी हैं. मगर पिछले कुछ दिनों में जिस तरीके से लिपि सिंह ने अनंत सिंह के खिलाफ कार्रवाई की है, उससे उनकी एक नई पहचान बन गई है 'लेडी सिंघम' की.

2016 बैच की आईपीएस अधिकारी लिपि सिंह ने पिछले कुछ दिनों में 'छोटे सरकार' के नाम से मशहूर अनंत सिंह के खिलाफ ऐसी कार्रवाई की है कि अब फिलहाल गिरफ्तारी के डर से फरार चल रहा है.

अनंत सिंह के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए लिपि सिंह ने कुछ दिन पहले मोकामा में स्थित उसके पैतृक गांव लदमा में छापेमारी की और उसके घर से एक एके-47 राइफल, 22 जिंदा कारतूस और 2 देसी बम बरामद किए. इसी बरामदगी को लेकर लिपि सिंह ने अनंत सिंह के खिलाफ अनलॉफुल एक्टिविटीज प्रीवेंशन एक्ट (UAPA) के तहत एफआईआर दर्ज किया.

अनंत सिंह को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने जब उसके पटना आवास पर छापेमारी की तो उसे इसके बारे में पहले ही जानकारी मिल गई थी और वह वहां से फरार हो गया. हाल ही में अनंत सिंह का एक ऑडियो क्लिप भी वायरल हुआ था जहां पर वह अपने एक प्रतिद्वंदी, भोला सिंह की हत्या की साजिश रचता हुआ सुना गया था. इस मामले में भी लिपि सिंह ने अनंत सिंह समेत उसके दाहिना हाथ कहे जाने वाले लल्लू मुखिया के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी.

Ak-47 मामले में अनंत सिंह के फरार होने के बाद लिपि सिंह ने लल्लू मुखिया पर दबिश बनाना शुरू किया जिसके बाद वह भी फरार हो गया. लल्लू मुखिया की गिरफ्तारी सुनिश्चित करने के लिए लिपि सिंह ने कोर्ट से उसके संपत्ति कुर्की का आदेश प्राप्त किया और फिर ताबड़तोड़ लल्लू मुखिया के संपत्ति को कुर्क करने की कार्रवाई भी शुरू कर दी, यानी बिना समय गवाएं सब कुछ ताबड़तोड़.

लिपि सिंह आईपीएस बनने के बाद अपने कैरियर के छोटे से अंतराल में ही विवादों से भी काफी घिरी रही हैं. 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी की शिकायत पर चुनाव आयोग ने लिपि सिंह का बाढ़ एडिशनल एसपी से तबादला कर आतंक निरोधक दस्ते में कर दिया था. नीलम देवी कांग्रेस के टिकट पर मुंगेर से जदयू उम्मीदवार लल्लन सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ी थीं. चुनाव में लल्लन सिंह ने नीलम देवी को हराया था.

चुनाव समाप्त होने के बाद लिपि सिंह एक बार फिर से बाढ़ एडिशनल एसपी के पद पर पदस्थापित कर दी गई थीं. दूसरी बार बाढ़ के एडिशनल एसपी का पदभार संभालने के बाद ही लिपि सिंह ने अनंत सिंह के साम्राज्य के खिलाफ हल्ला बोल कर दिया है.

सूत्रों के मुताबिक लिपि सिंह को दोबारा बाढ़ एडिशनल एसपी का पदभार उसके सांसद पिता आरसीपी सिंह की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की नजदीकियों के वजह से मिला है. लिपि सिंह ने अपने क्षेत्र में अवैध हथियार के खिलाफ अभियान चलाकर रखा हुआ है जिसकी वजह से अनंत सिंह और उसके गुर्गों के खिलाफ कार्रवाई हो रही है.

हाल ही में, एक मंच पर जदयू सांसद लल्लन सिंह ने लिपि सिंह का इशारों-इशारों में अनंत सिंह के खिलाफ कार्रवाई का समर्थन किया और कहा कि उन्हें निडर होकर अपराधिक तत्वों के खिलाफ कार्रवाई करती रहना चाहिए. लल्लन सिंह ने कहा कि चाहे अपराधी किसी भी राजनेता के कितना भी करीबी क्यों ना हो, लिपि सिंह को उनके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए.

साभार- आज तक

Previous
Next

© 2015 Rajkaaj News, All Rights Reserved || Developed by Workholics Info Corp


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /srv/users/serverpilot/apps/rajkaaj/public/news/footer1.php on line 120
Total Visiter:0

Todays Visiter:0