10-Dec-2018

 राजकाज न्यूज़ अब आपके मोबाइल फोन पर भी.    डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें

यह है शिव राज का असली चेहरा, भ्रष्ट को बचाओ, कार्रवाई करने वालों को हटाओ: यादव

Previous
Next

भोपाल 10 जनवरी । प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनकी सरकार की कथनी और करनी में भारी अंतर होने संबंधी लगाया जाने वाला आरोप एक बार फिर साबित हो गया है। यह दावा पीसीसी चीफ अरूण यादव ने किया है।

यादव ने मंगलवार को जारी एक बयान में कहा है कि नोटबंदी के बाद कटनी में हुए महाघोटाले में शिवराज कैबिनेट के मंत्री साफ तौर पर फंस रहे थे। नोटबंदी के बाद किस तरह से कटनी में 500 करोड़ रूपयों से ज्यादा की पुरानी राशि हवाला कारोबारियों, बैंकों और बैंक के अफसरों की मिलीभगत से बदली गई, कटनी के दबंग पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी द्वारा की जा रही शुरूआती जांच में सामने आ गया था। कटनी एसपी पर जांच को दबाने का भारी दबाव स्थानीय नेताओं से लेकर जांच में फंस रहे मंत्री और भोपाल से हो रहा था। एसपी पीछे हटने को तैयार नहीं थे। उन्होंने साफ कर दिया था कि घोटाला 500 करोड़ रूपये तक सीमित नहीं है। विस्तृत जांच में यह घोटाला कई हजार करोड़ तक पहुंचने, कटनी का प्रतिनिधित्व करने वाले प्रदेश सरकार के मंत्री और कुछ बेहद नामी.गिरामी बड़े चेहरों का घिनौना चेहरा बेनकाब होने का संकेत कटनी एसपी श्री तिवारी ने सरकार को दे दिये थे।

यादव ने आरोप लगाया कटनी से लेकर भोपाल तक के दबाव के बाद भी सच को उजागर करने से एसपी श्री तिवारी पीछे हटने को तैयार नहीं हुए तो मुख्यमंत्री चौहान ने उन्हें ही कटनी एसपी पद से हटा दिया। यादव ने सवाल किया है कि छह महीने पहले ही कटनी में पदस्थ किये गये एसपी को मुख्यमंत्री ने क्यों हटाया, इसकी वजह मुख्यमंत्री को स्पष्ट करना चाहिये। किसी भी अफसर का तबादला मुख्यमंत्री और सरकार की मर्जी पर निर्भर है, लेकिन ईमानदार अधिकारी को इस तरह हटाया जाना साफ संकेत देता है कि मुख्यमंत्री नहीं चाहते कि भ्रष्टाचार उजागर हो और भ्रष्टाचार करने वालों पर कार्रवाई हो।

यादव ने याद दिलाया कि कटनी से पहले श्री गौरव तिवारी बालाघाट के एसपी थे। बालाघाट पदस्थापना के दौरान उन्होंने बिना परवाह किये जिले के कलेक्टर द्वारा किया गया लकड़ी घपला उजागर किया था। मुख्यमंत्री ने कलेक्टर को हटाकर संदेश दिया था कि एसपी की कार्रवाई ठीक थी। लेकिन कुछ समय बाद ही बालाघाट से श्री गौरव तिवारी को हटाकर कटनी का एसपी बना दिया था। अब जब श्री तिवारी ने कटनी में मंत्री और उनके गुर्गों पर हाथ डालकर बड़ा गड़बड़झाला उजागर किया तो मुख्यमंत्री ने एसपी पद से गौरव तिवारी को हटाकर अपनी कथनी और करनी के अंतर को स्पष्ट कर दिया है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष यादव ने कहा मुख्यमंत्री के फैसले से साफ हो गया है कि वे भ्रष्टाचार को खत्म करने और भ्रष्टाचारी कितना ही बड़ा हो को नहीं बख्शने का शिवराज सिंह चौहान राग भर अलापते हैं, वास्तव में मुख्यमंत्री की मंशा भ्रष्टाचार को खत्म करने के बजाय ऐसा करने वाले बड़े चेहरों को बचाने वाली ज्यादा होती हैं।

यादव पहुंचे स्व. पटवा के निवास कुकडेष्वर, परिजनों को दी सांत्वना

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरूण यादव मध्यप्रदेष के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. सुंदरलाल पटवा के निधन पर आज उनके पैतृक निवास कुकडेष्वर (मंदसौर) पहुंचे और उनके शोकाकुल परिजनाें से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना व्यक्त की। यादव ने स्व. पटवा जी को मूल्यों, सिद्धांतों का पर्याय बताते हुए कहा कि वे एक दृढ़ प्रषासक थे, अपने शासनकाल में उन्होंने राजनैतिक निर्णयों के प्रति हमेषा अपना दृढ़ संकल्प दोहराया। यादव ने दिवंगत पटवाजी के प्रति अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

Previous
Next

© 2015 Rajkaaj News, All Rights Reserved || Developed by Workholics Info Corp

Total Visiter:7009453

Todays Visiter:1817