18-Oct-2018

 राजकाज न्यूज़ अब आपके मोबाइल फोन पर भी.    डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें

बिस्तर पर जाने से पहले बिल्कुल न करें ये गलतियां, जानिए क्या

Previous
Next
दिनभर की थकान के बाद आप तो खुशी खुशी बिस्तर पर सोने जा रहे हैं लेकिन यह नींद है कि आने का नाम ही नहीं ले रही। इसकी कुछ ऐसी भी वजहें हो सकती हैं जिनके बार में आपने सोचा भी नहीं होगा। कहीं आप ये गलतियां तो नहीं कर रहे।

बिस्तर पर सोने के लिए लेट तो गए हैं लेकिन अगर साथ में स्मार्टफोन या लैपटॉप, आईपैड पर काम जारी है तो याद रखिए आपको जल्द नींद नहीं आ पाएगी। कंप्यूटर, फोन, टैबलेट जैसे उपकरणों से जो नीली लाइट निकलती है वह शरीर में उस हॉर्मोन को नहीं बनने देती जो नींद पैदा करता है।

अगर आप ऑफिस से कोई जरूरी काम घर लाए हैं या पढ़ाई लिखाई करनी है तो याद रहे सोने के समय और यह काम करने के समय में कम से कम 30 मिनट का अंतर रहे वरना सोते समय भी दिमाग उसी काम में उलझा रहता है और अच्छी नींद नहीं आती। ऐसे ही कोई ईमेल भी चेक न करें क्योंकि उसमें आपको परेशान करने वाली बात भी लिखी हो सकती है।

अगर आप सोने से पहले कोई दवा रोजाना ले रहे हैं और नींद न आने की भी समस्या है तो अपने डॉक्टर से पूछें कि क्या आपको नींद न आने का कारण यह दवा हो सकती है। कुछ दवाएं होती हैं जो दिमाग को उलझा कर रखती हैं या पेट में हलचल पैदा कर देती हैं। जाहिर है ऐसे में आप सो नहीं पाएंगे।

ज्यादातर माना जाता है कि सोने से पहले कसरत कर लेने से नींद भाग जाती है। ऐसा होता भी है अगर बहुत ज्यादा या बहुत ताकत वाली कसरत कर ली जाए। लेकिन थोड़ी बहुत कसरत करने से नींद अच्छी आती है।

सोने जाने से तुरंत पहले किसी दोस्त या परिवार वाले को मेसेज करने की या किसी सामूहिक चैट का हिस्सा बनने की गलती भी न करें। आप तो गुडनाइट कह कर सोने की तैयारी कर लेंगे लेकिन दूसरे इंसान के जवाब आने से आपकी नींद खराब हो सकती है।

सोने से पहले टीवी देखना या वीडियो गेम खेलना बहुत गलत फैसला होता है। कोई भी रोचक चीज आपको देर तक जगाए रखेगी और फिर नींद नहीं आएगी।

अगर आप उन लोगों में से हैं जो अपने पालतू जानवरों को साथ लेकर सोते हैं तो ऐसा करना बंद कर दीजिए। एक नए शोध में सामने आया है कि कुत्ते या बिल्ली को साथ सुलाने वालों की नींद अक्सर अधूरी रहती है क्योंकि जानवर रात भर बहुत  हलचल करते हैं।

अगर आफ कमरे का तापमान ज्यादा कर के सोते हैं तो बेहतर है कि इसे थोड़ा कम रखें। शरीर का तापमान रात में गिरता है और कमरे में थोड़ी ठंड रहने से आप कंबल की तरफ हाथ बढ़ाएंगे तो जाहिर है बेहतर नींद आएगी।

अगर आप सुबह के साथ साथ रोज रात में सोने से पहले भी नहाते हैं तो ठीक लेकिन अगर ऐसा कभी कभी ही करते हैं तो दिमाग को लगता है कि रोज सुबह की तरह तरो ताजा होने का समय हो गया है। और यह बदवाल नींद नहीं आने देता।

सोने से पहले किसी से लड़ाई कर लेने से बुरा कुछ नहीं हो सकता। तनाव नींद न आने का एक बड़ा कारण है इसलिए सोने जाने से पहले किसी भी बात पर लड़ाई करने से बचें औऱ अगर हो भी जाए तो कोशिश करें कि तुरंत सुलझा लें।

Previous
Next

© 2015 Rajkaaj News, All Rights Reserved || Developed by Workholics Info Corp

Total Visiter:6690042

Todays Visiter:1193