16-Nov-2018

 राजकाज न्यूज़ अब आपके मोबाइल फोन पर भी.    डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें

स्व. सुंदरलाल पटवा के निवास पर शोक श्रद्धांजलि सभा संपन्न

Previous
Next

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री स्व. सुंदरलाल पटवा के निवास बी-3, 74 बंगले में आज श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गयी।

इस अवसर पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुरेश पचौरी ने स्व. सुंदरलाल पटवा को स्मरण करते हुए कहा कि वे प्रशासकीय निर्णय लेने की क्षमता दलीय सीमा से ऊपर उठ कर मदद करते थे। पार्टी ने समय समय पर जो जिम्मेदारी उन्हें सौंपी उसे पूरी निष्ठा के साथ निभायी। उन्होंने ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रांतीय संघचालक सतीश पिम्पलिकर ने स्व. संुदरलाल पटवा को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कहा कि वे कुशल प्रशासक होने के साथ ही कुशल संगठक भी थे। मध्यप्रदेश सहित देश की राजनीति में दिए गए उनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है।

पूर्व मुख्यमंत्री एवं पार्टी के वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर ने कहा कि कठोर परिश्रम करके संगठन को मजबूती प्रदान की। वे हमेशा हर विषय पर पैनी बात करते थे। ईमानदार व्यक्तिव, कठोर अनुशासित और दृढ़ इच्छा शक्ति के धनी स्व. पटवा सदैव प्रदेश के इतिहास में जीवित रहेंगे। वरिष्ठ पत्रकार महेश श्रीवास्तव ने श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कहा कि वे बेबाकी से सत्य को उद्घाटित करते थे। कठिन से कठिन समय में त्वरित निर्णय लेने की उनकी कार्यशैली थी। स्व. पटवा जी ने हमेशा मोह से मुक्त होकर निर्णय लेते थे। कुशल प्रशासक, कुशल संगठक, ईमानदार व्यक्तित्व जैसे अद्भुत प्रतिभाओं के कारण हमेशा याद रहेंगे।

वरिष्ठ पत्रकार लज्जा शंकर हरदेनिया ने स्व. सुन्दरलाल पटवा का स्मरण करते हुए कहा कि वे प्रशासकीय कार्य हो या पारिवारिक हमेशा सोच समझ कर निर्णय लेने में माहिर थे। उन्होंने कभी भेदभाव की राजनीति न करते हुए सबको साथ लेकर चलने पर जोर दिया।

वरिष्ठ पत्रकार राजेंद्र शर्मा ने कहा कि उन्होंने लोगो को जोड़ने का काम किया। विलक्षण प्रतिभा के धनी स्व. पटवाजी ने परिवार से ज्यादा संगठन को महत्व दिया, इसलिए वे प्रदेश के लोकप्रिय राजनेता बनकर उभरे।

मध्यप्रदेश शासन की वरिष्ठ मंत्री सुश्री कुसुम मेहदेले ने स्व. संुदरलाल पटवा को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कहा कि वे हमेशा कार्यकर्ताओं के प्रति स्नेह भाव रखते थे। पार्टी के वरिष्ठ नेता स्व. कुशाभाऊ ठाकरे के साथ संगठन को गति प्रदान करने में उनका अपूरर्णीय योगदान रहा है।

पार्टी के वरिष्ठ नेता कैलाश नारायण सारँग ने अश्रुपुरित श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि स्व. संुदरलाल पटवा जिंदादिल इंसान होने के साथ साथ एक बहादुर इंसान भी थे। दो व्यक्ति थे एक कुशाभाऊ ठाकरे ने संगठन को खड़ा किया। दूसरे पटवा जी ने संगठन को आगे बढ़ाया और प्रशासन को चुस्त दुरुस्त कर संगठन को जन जन तक फैलाने का कार्य किया।                      

इस अवसर पर वरिष्ठ मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, विश्वास सारंग, सांसद आलोक संजर, प्रदेश उपाध्यक्ष व विधायक रामेश्वर शर्मा, महापौर आलोक शर्मा, प्रदेश मंत्री विजेन्द्रप्रताप सिंह, प्रदेश प्रवक्ता सुश्री राजो मालवीय, प्रदेश कार्यालय मंत्री सत्येन्द्र भूषण सिंह, शिव चौबे, तपन भौमिक, शांतिलाल लोढ़ा, अनिल सौमित्र, श्रीमती उषा चतुर्वेदी, वरिष्ठ पत्रकार राजेन्‍द्र धनोतिया, सुनील गंगराड़े, सुरेश शर्मा, विजय दास, रामभुवन सिंह, मोहन लाल छिपा, बद्री चैहान, सुनील पाण्डे, गोविन्द सिंह, सुश्री सरिता देशपांडे, श्रीमती शशि सिन्हो, कुलदीप खरे, राम बंसल, रविश चौहान, सुनील चौहान, मुन्ना पटेल, प्रेम पटेल, अशोक सैनी, राजा पटेल, भगवानदास सबनानी, भागीरथ पाटीदार, प्रकाश मीरचंदानी, भारत सिंह, अशोक त्रिपाठी, शैतान सिंह पाल, डीके जैन, रामकिशन चौहान, आशीष शर्मा सहित पार्टी के प्रदेश पदाधिकारी, सांसद, विधायक, जिला पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं ने श्रद्धासुमन अर्पित किए। वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता महेश जोशी सहित शोक सभा में कई वरिष्‍ठ अधिकारी भी मौजूद थे। शोक व्यक्त करते हुए उपस्थित जनों ने सुरेन्द्र पटवा, भरत पटवा, प्रवीण पटवा सहित पटवा परिवार पर हुए वज्रपात को सहन करने की ईश्वर से कामना की।

105 गांव में जल पहुंचेगा 55 हजार हैक्टेयर धरती लहलहा उठेगी

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री नंदकुमारसिंह चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व के 11 वर्षों में मध्यप्रदेश में ऐतिहासिक सिंचाई क्रांति हुई है। इसी श्रृंखला में 15 जनवरी को खरगौन जिले के भगवानपुरा के अंतर्गत बिष्ठान में मां नर्मदा के जल उद्वहन की विशाल परियोजना का भूमिपूजन संपन्न होगा। इसके अंतर्गत 105 ग्रामों की 55 हजार हेक्टेयर धरती सोना उगलेगी। भूमिपूजन में आंचलिक क्षेत्र की जनता अपने अपने टैक्ट्ररों से पहंुचेगी और प्रदेश में आयी बहुलता और विपुलता का मेला लगेगा। 105 कलश स्थापित किए जायेंगे और मां नर्मदा का आव्हान किया जायेगा। आप बिष्ठान में आयोजित किसान सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।
 

ममता अपने गिरहबान में झांकने का साहस दिखाये- विजेश

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री विजेश लूनावत ने कहा कि लोकतंत्र में सपना देखना और महत्वाकांक्षी होना हर व्यक्ति का अधिकार है। लेकिन दूसरे की कमीज मेरी कमीज से उजली क्यों ? मानसिकता से दूसरों पर दोषारोपण राजनैतिक नैतिकता के प्रतिकूल है। प. बंगाल की मुख्यमंत्री सुश्री ममता बनर्जी जब देख चुकी है कि उनके राज्य में हुए चिटफंड घोटाले की सीबीआई जांच की निगरानी सुप्रीम कोर्ट कर रहा है तो इसकी तोहमत प्रधानमंत्री पर लगाना सुश्री ममता बनर्जी की ओछी राजनीति है। होना तो यह चाहिए कि ममता जी स्वंय चिटफंड योजना में हुई जनता की लूट की जांच में सहयोग करती और जांच एजेंसी के साथ सक्रिय हो जाती। लेकिन इसके बजाय ममता बनर्जी ने तृणमूल कांगे्रस के कार्यकर्ता को प्रतिशोध की भावना से हिम्मत दी, जिससे तृणमूल कांगे्रस ने भाजपा कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित करने का दुस्साहस किया।

 


 

 

बैंगलुरू में महिला के साथ हुई अपमानजनक घटना को लेकर

महिला मोर्चा प्रदेश भर में कलेक्टर को ज्ञापन सौंपेगा- लता ऐलकर

                भोपाल। भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की जिला इकाईयों द्वारा बेंगलुरू की घटना के विरोध में केन्द्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह को संबोधित ज्ञापन जिला कलेक्टर के माध्यम से गृह मंत्रालय नईदिल्ली को भेजा जायेगा और बेंगलुरू में नववर्ष के अवसर पर महिला के साथ हुई अभद्रता की घटना की जांच की मांग की जायेगी।

                महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती लता ऐलकर ने प्रदेश की सभी 56 जिला अध्यक्ष बहनों को लिखे पत्र में कहा है कि कांगे्रस शासित कनार्टक राज्य में 1 जनवरी के जलसे के दौरान कार्यक्रम के समय मनचले युवकों ने महिला के साथ अभद्र व्यवहार कर नारी सम्मान को ठेस पहुंचायी और उसे अपमानित किया। इस घटना के विरोध में महिला मोर्चा ने राष्ट्रीय महिला आयोग और मानवाधिकार आयोग को ज्ञापन सौंपकर कर्नाटक सरकार की महिला सुरक्षा में हुई विफलता की जांच की मांग की है।

                श्रीमती ऐलकर ने सभी जिला अध्यक्ष बहनों से आग्रह किया है कि वे कांग्रेस शासित कनार्टक में महिला अस्मिता आहत किये जाने की दुर्भाग्यपूर्ण घटना के विरोध में अपने-अपने जिलों में कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर घटना की जांच और दोषियों को दंडित किये जाने की मांग करें।

              

Previous
Next

© 2015 Rajkaaj News, All Rights Reserved || Developed by Workholics Info Corp

Total Visiter:6861959

Todays Visiter:2810