23-Nov-2019

 राजकाज न्यूज़ अब आपके मोबाइल फोन पर भी.    डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें

देश में गायों की संख्‍या 18 फीसदी बढ़कर 14.51 करोड़ हुई

Previous
Next

नई दिल्ली. खास तौर से गाय (Cow) संरक्षण के अभियान में लगीं यूपी (UP) की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) और हरियाणा (Haryana) की मनोहरलाल खट्टर (Manohor lal Khattar) सरकार के लिए खुशखबरी है. देश में गायों की संख्या बढ़ रही है. 20वीं पशुगणना की रिपोर्ट (Live stock Report) के अनुसार देश में गायों की आबादी में 18 फीसदी का इजाफा हुआ है. गुरुवार को पशुगणना रिपोर्ट जारी करते हुए ये जानकारी पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय ने दी है.

राष्ट्रीय मुस्लिम मंच (गौ सेवा प्रकोष्ठ) के राष्ट्रीय संयोजक फैज़ अहमद का कहना है, 'केन्द्र, यूपी और हरियाणा सरकार के अभियान के बाद लोगों में जागरुकता आई. जिससे गाय का पालन बढ़ गया. गौशालाओं में भी गायों की संख्या बढ़ गई है. आम जनमानस की जागरुकता से ही गायों की संख्या में इजाफा हुआ है, यह हमारे लिए खुशी की बात है.'

अब 14.51 करोड़ गाय हो गईं देश में

2012 की 19वीं पशुगणना पर जाएं तो उसके मुकाबले गायों की संख्या में करीब 18 फीसदी की वृद्धि हुई है. पशुगणना की हालिया रिपोर्ट के अनुसार, भारत में गायों की आबादी 14.51 करोड़ है. यह जानकारी 20वीं पशुगणना की रिपोर्ट में दी गई है. पिछली पशुगणना के मुकाबले 20वीं पशुगणना में सभी तरह के पशुधन की आबादी 4.6 फीसदी बढ़ी है. देश में पशुगणना हर पांच साल पर होती है.

20वीं पशुगणना के कुछ आंकड़े एक नजर में

देश में कुल पशुधन आबादी 535.78 मिलियन है, ये पशुधन गणना- 2012 की तुलना में 4.6 प्रतिशत अधिक है।

देश में मवेशी की कुल संख्‍या वर्ष 2019 में 192.49 मिलियन है जो पिछली गणना की तुलना में 0.8 प्रतिशत ज्‍यादा है.

मादा मवेशी (गायों की कुल संख्‍या) 145.12 मिलियन है जो पिछली गणना (2012) की तुलना में 18.0 प्रतिशत अधिक है.

देश में भैंसों की कुल संख्‍या 109.85 मिलियन है जो पिछली गणना की तुलना में लगभग 1.0 प्रतिशत अधिक है.

गायों और भैंसों में कुल दुधारू पशुओं की संख्‍या 125.34 मिलियन है जो पिछली गणना की तुलना में 6.0 प्रतिशत अधिक है.

देश में भेड़ की कुल संख्‍या वर्ष 2019 में 74.26 मिलियन है जो पिछली गणना की तुलना में 14.1 प्रतिशत ज्‍यादा है.

देश में बकरी की कुल संख्‍या वर्ष 2019 में 148.88 मिलियन है जो पिछली गणना की तुलना में 10.1 प्रतिशत अधिक है.

घोड़े, टट्टू, खच्चर, गधे, ऊंट सहित अन्य पशुधन आपस में मिलकर कुल पशुधन में लगभग 0.23 प्रतिशत का योगदान करते हैं और उनकी कुल संख्‍या 1.24 मिलियन है.

देश में वाणिज्यिक पोल्‍ट्री की कुल संख्‍या 534.74 मिलियन है जो पिछली गणना की तुलना में 4.5 प्रतिशत अधिक है.

साभार- न्‍यूज 18

Previous
Next

© 2015 Rajkaaj News, All Rights Reserved || Developed by Workholics Info Corp


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /srv/users/serverpilot/apps/rajkaaj/public/news/footer1.php on line 120
Total Visiter:0

Todays Visiter:0