07-Jun-2020

 राजकाज न्यूज़ अब आपके मोबाइल फोन पर भी.    डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें

एमपी पुलिस की कोरोना के खिलाफ लड़ाई: जब अतिरिक्‍त पुलिस अधीक्षक ने बनाई रसोई

Previous
Next

भोपाल, 31 मार्च 2020/ कोरोना के खिलाफ चल रही लड़ाई के दौरान उमरिया की अति‍रिक्‍त पुलिस अधीक्षक श्रीमती रेखा सिंह ने मानवता की एक अलग ही मिसाल पेश की है। वे लॉकडाउन में अपनी ड्यूटी के दौरान एक कड़क पुलिस अधिकारी के रूप में नजर आईं तो जब आर्थिक रूप से कमजोर लोगों एवं श्रमिकों को भोजन के लिए परेशान देखा तो एक संवेदनशील भारतीय नारी बन गईं। वे अपने पद को एक किनारे रखकर कुशल गृहणी की तरह भोजन बनाने में जुट गईं। अपने स्‍टॉफ के सहयोग से भोजन तैयार कर उन्‍होंने जरूरतमंदों तक पहुँचाया। पुलिस का यह रूप देखकर श्रमिकों की आंखे छलक आईं और वे पुलिस का शुक्रिया अदा करते नहीं थक रहे थे।

नोवल कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के बाद उमरिया पुलिस भी पूरी मुस्‍तैदी एवं संवेदनशीलता के साथ काम कर रही है। एक और जहाँ कड़ाई से लॉकडाउन कराया जा रहा है वहीं दूसरी और जरूरतमंदों के लिए भोजन व आवास की अस्‍थाई व्‍यवस्‍था भी की जा रही है।

नीमच पुलिस ने श्रमिकों के लिए बनवाए अस्‍थाई पुनर्वास केन्‍द्र

लॉकडाउन की घोषणा के बाद नीमच जिले की सीमा पर पहुँचे श्रमिकों के लिए नीमच पुलिस ने जिला प्रशासन से समन्‍वय बनाकर विभिन्‍न स्‍थानों पर अस्‍थाई आवास एवं भोजन का इंतजाम कराया है। जिले की सीमा पर स्थित एक दर्जन अंतर्राज्‍यीय चैक पोस्‍ट एवं अंतर जिला चैक पोस्‍ट के समीप स्थित ढाबा, टोटल, मैरिज गार्डन एवं अन्‍य सार्वजनिक भवनों में पुनर्वास शिविर बनाए गए हैं। इन शिविरों में श्रमिकों को पहुँचाने के पूर्व सभी का स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण किया गया। साथ ही जीवन रक्षक दवाएँ भी मुहैया कराई गईं।

वैश्विक महा‍मारी कोरोना की वजह से लागू किए गए लॉकडाउन के बाद नीमच जिले में खासतौर पर राजस्‍थान, पंजाब, रतलाम, झाबुआ, अलीराजपुर, बांसवाड़ा व डूंगरपुर क्षेत्र से लगभग 1100 श्रमिक एवं उनके परिजन पहुँचे हैं।

श्रमिकों एवं उनके परिवार जनों के अस्‍थाई आवास के लिए पुलिस ने कुल 65 होटल, धर्मशाला, मैरिज गार्डन व मांगलिक भवन जिला प्रशासन से अधिग्रहीत कराए हैं। नीमच जिले की सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है। साथ ही पुलिस द्वारा 24 घंटे चौकसी भी की जा रही है।

देवगढ़ पुलिस जुटी दीन-दुखियों की सेवा में

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से निर्मित हुई संकट की घड़ी में मध्‍यप्रदेश दीन-दुखियों एवं असहायों की संबल बन रही है। इस महा‍मारी से बचने के मकसद से किए गए देशव्‍यापी लॉकडाउन की वजह से जो श्रमिक अन्‍य प्रांतो से पैदल चलकर अथवा अन्‍य साधनों से प्रदेश में पहुँचे हैं, उनके खान-पान एवं अस्‍थाई आवास की व्‍यवस्‍था करने में मध्‍यप्रदेश पुलिस अन्‍य शासकीय विभागों से समन्‍वय बनाकर दिन-रात जुटी है। मुरैना जिले के दूर दराज क्षेत्र में स्थित देवगढ़ थाना पुलिस ऐसे ही जरूरतमंदों को प्रति-दिन भोजन व राशन मुहैया करा रही है। देवगढ़ थाना में इस आशय का बैनर भी लगाया गया है। बैनर पर लिखा है दीन दुखियों की सेवा ही सच्‍चा धर्म है।

Previous
Next

© 2015 Rajkaaj News, All Rights Reserved || Developed by Workholics Info Corp


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /srv/users/serverpilot/apps/rajkaaj/public/news/footer1.php on line 120
Total Visiter:0

Todays Visiter:0