08-Dec-2019

 राजकाज न्यूज़ अब आपके मोबाइल फोन पर भी.    डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें

बूथों पर पदस्थ होने वाले स्वयं सेवकों के नाम, पते और मोबाइल नंबरों की सूची ली जाये: भूपेन्द्र गुप्ता

Previous
Next

कांगे्रस ने की चुनाव आयोग से आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत

भोपाल, 30 अप्रैल 2019, कांगे्रस मीडिया सेल के उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने चुनाव आयोग से शिकायत करते हुए भोपाल लोकसभा क्षेत्र में 24 सौ से ज्यादा बूथों पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के दो-दो स्वयं सेवकों के मौजूद रहने के संघ के निर्णय पर प्रश्न चिन्ह खड़ा करते हुए इसे आपत्तिजनक बताया है और आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत की है। उन्होंने चुनाव आयोग से आग्रह किया है कि वह सतर्कता की दृष्टि से बूथों पर पदस्थ होने वाले स्वयं सेवकों की सूची, उनके पते और मोबाइल नंबरों की जानकारी भाजपा से प्राप्त करें, ताकि यदि वे अन्य प्रांत और जिलों से आये हों तो उन्हें मतदान के दो दिन पूर्व भोपाल लोकसभा क्षेत्र से हटाया जा सके।
श्री गुप्ता ने आज मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वी.एल. कांताराव से मिलकर इस आशय का पत्र सौंपा। शिकायत पत्र में गुप्ता ने लिखा है कि विगत 28 अप्रैल के समाचार पत्रांे में एम.कृष्ण गोपाल का उल्लेख करते हुए छपा है कि भोपाल में हर बूथ पर भाजपा कार्यकर्ता के साथ दो स्वयंसेवक भी रहेंगे। समाचार में इस बात का भी उल्लेख है कि शिशु मंदिर संस्था, ए.बी.वी.पी, विहिप, बजरंग दल के साथ 203 सेवाबस्तियों मे संघ एक्टिव हो गया है। जाहिर है कि भोपाल का साम्प्रदायिक सौहाद्र जाति और धर्म की आड़ में बिगड़ने की पूरी पूरी संभावना है। साथ ही धार्मिक स्थलों पर भी साम्प्रदायिक माहौल खराब होने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता।
उन्होंने आयोग से आग्रह किया है कि बूथों पर तैनात होने वाले संघ के पांच हजार स्वयं सेवकों की सूची भाजपा से प्राप्त की जाए और उन पर गहन निगरानी की जाए, जो निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान के लिए बहुत जरूरी है। यह भी संभावना है कि संघ के ये कार्यकर्ता दूरस्थ प्रदेशों से आए हैं, जिनको पोलिंग बूथ पर बैठाना आचार संहिता का भी उल्लंघन होगा, तथा किसी अवांछित घटना के समय इन्हें पहचानना भी मुश्किल होगा।
अतः कांग्रेस पार्टी आग्रह करती है कि इन संभावित स्वयं सेवकों की सूची, स्थायी निवास पतों, मोबाइल नंबर सहित प्राप्त की जाए, ताकि यदि वे दूसरे प्रांत या जिलों से आए हों तो उन्हें मतदान के दो दिन पूर्व शहर से बाहर किया जा सके। निष्पक्ष एवं तटस्थ चुनाव की यह आवश्यकता है। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से यह भी जानकारी ली जाए की गैर राजनैतिक संगठन होते हुए भी वे अपने कार्यकर्ताओं को राजनैतिक दायित्व में क्यों झोंक रहे हैं?

शहीद करकरे पर राजनीति करने वाले और उनका अपमान करने वालों को देश की जनता देगी जवाब

प्रदेश कांगे्रस मीडिया विभाग की अध्यक्ष श्रीमती शोभा ओझा ने कहा है कि संवैधानिक पद पर आसीन लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन ने शहीद हेमंत करकरे की शहादत का अपमान करते हुए जो बयान दिया है वह घोर निंदनीय है, भारतीय जनमानस पर चोट पहुंचाने वाला है और राजनैतिक स्वार्थों से प्रेरित होकर दिया गया है।
श्रीमती ओझा ने बताया कि सुमित्रा महाजन का बयान, जिसमें उन्होंने कहा कि ‘‘करकरे का निधन ड्यूटी के दौरान हुआ था, इसलिए उन्हें शहीद माना जायेगा, लेकिन दिवंगत एटीएस चीफ हेमंत करकरे कांगे्रस के संरक्षण में काम कर रहे थे और वे दिग्विजयसिंह के बेहद खास थे, इसलिए उनकी भूमिका संदिग्ध है।’’ यह घोर निंदनीय बयान है। देश की रक्षा के लिए अपने प्राणांे की परवाह न करते हुए 26/11 के मुंबई हमले में जो जवान शहीद हुये, करकरे उनके नेतृत्वकर्ताओं में से एक थे।
श्रीमती ओझा ने कहा कि देश की प्रति शहीद करकरे की निष्ठा संदेह के परे थी। शहीद करकरे के बारे में चाहे साध्वी प्रज्ञा हो, या सुमित्रा महाजन का बयान हों, इन बयानों से देश की जनता को गहरा आघात पहंुचा है और वो इन बयानों के लिए इन नेताओं और भाजपा को कभी माफ नहीं करने वाली है और अपने मताधिकार के माध्यम से वह शहीदों का अपमान करने वालों को करारा सबक जरूर सिखायेगी।

Previous
Next

© 2015 Rajkaaj News, All Rights Reserved || Developed by Workholics Info Corp


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /srv/users/serverpilot/apps/rajkaaj/public/news/footer1.php on line 120
Total Visiter:0

Todays Visiter:0